अगर अनुशासित ढंग से रोज 100 या 200 रुपये की भी बचत की जाए तो यह एक समय के बाद आपके लिए बड़ा सपोर्ट बन सकता है.रोजाना महज 100 या 200 रुपये की बचत का महत्व बहुत से लोग नहीं समझ पातें. आमतौर पर ज्यादातर लोग बड़ी रकम के निवेश में भरोसा रखते हैं. लेकिन अगर अनुशासित ढंग से रोज 100 या 200 रुपये की भी बचत की जाए तो यह एक समय के बाद आपके लिए बड़ा सपोर्ट बन सकता है. अगर आपकी मंथली इनकम औसतन 40 से 50 हजार रुपये है तो अन्य खर्चे निकालने के बाद रोज इतनी रकम बचाना मुश्किल नहीं है. बचत जितनी जल्दी शुरू करेंगे, फायदा उतना ही ज्यादा होगा. इसमें काम आती है कंपाउंडिंग की ताकत.
रोज के खर्च से कुछ कुछ बचाएं

मान लीजिए कि आप 25 की उम्र में हैं और आपकी सैलरी 40 से 50 हजार रुपये के बीच है. ऐसे में शुरू में जिम्मेदारी कम होने से रोज के खर्च से 200 रुपये बचाना आसान है.करियर आगे बढ़ने पर सैलरी भी बढ़ेगी, ऐसे में जिम्मेदारी बढ़ने पर भी यह बचत की जा सकती है. आपको 200 रुपये रोज की बचत की आदत 20 साल तक डालनी होगी.
कैसे बनेगा 35 लाख का फंड

अगर 200 रुपये की रोजाना बचत होती है तो यह 6000 रुपये महीना हो जाएगा.
वहीं, सालाना रकम 72,000 रुपये होगी.
20 साल तक निवेश करने पर कुल जमा रकम 14.40 लाख रुपये होगी.
आपको अपनी बचत बेहतर RD स्कीम में लगानी होगी. मान लीजिए कि RD स्कीम में आपको हर साल 8 फीसदी के हिसाब से रिटर्न मिल रहा है.
ऐसे में हर महीने 6000 रुपये के निवेश पर कंपाउंडिंग 8 फीसदी रिटर्न देखें तो 20 साल में कुल 35.58 लाख रुपये के करीब फंड तैयार हो जाएगा.
21 लाख रुपये का होगा फायदा

अगर 20 साल तक रोज 200 रुपये के हिसाब से निवेश देखें तो आपका कुल निवेश 14.40 लाख रुपये होगा. वहीं, आपको 20 साल बाद 8 फीसदी सालाना कंपाउंडिंग के लिहाज से कुल 35.58 लाख रुपये का फंड मिल जाएगा. यानी कुल निवेश पर 21.18 लाख रुपये ब्याज मिलेगा.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *